घोटाले की गूंज के बीच आज गुजरात से बीजेपी के लिए अच्छी खबर आई है. नगरपालिका चुनाव में बीजेपी को पिछली बार की तुलना में नुकसान तो हुआ है लेकिन पार्टी ने कांग्रेस के मुकाबले जबरदस्त जीत हासिल की है. बीजेपी की ये जीत इस मायने में काफी अहम है क्योंकि अभी विधानसभा चुनाव में पार्टी को भारी नुकसान हुआ था. बीजेपी ने नगरपालिका चुनाव में न सिर्फ वडनगर में बल्कि राज्य भर में जबरदस्त जीत हासिल की है. कुल 75 नगरपालिका में से बीजेपी की झोली में 46, कांग्रेस को 18 सीट मिलती दिख रही है. बाकी में निर्दलीय आगे है. हालांकि बीजेपी को 16 नगरपालिका में हार का सामना करना पड़ा है, जबकि कांग्रेस 6 से 18 पर पहुंच गई है. मोदी के गृह नगर वडनगर के 28 वार्ड में 27 वार्ड में बीजेपी को जीत मिली है. कांग्रेस को यहां सिर्फ एक वार्ड में जीत मिली है. उत्तर गुजरात में 16 में से 11 बीजेपी को मिली है मध्य गुजरात की 19 में से 7 में बीजेपी जीती है दक्षिण गुजरात की 6 में से 5 नगरपालिका बीजेपी जीती है सौराष्ट्र की 34 में से 23 नगरपालिका बीजेपी ने जीती है सौराष्ट्र में बीजेपी को विधानसभा चुनाव में नुकसान हुई था. इस बार बीजेपी ने उसे कवर करने की कोशिश की है, जबकि कांग्रेस ने विधानसभा चुनाव में जिस हिसाब से प्रदर्शन किया था उस हिसाब से रिजल्ट उसके पक्ष में नहीं आया है. बीजेपी ने आधे से ज्यादा नगरपालिका सीटों पर जीत दर्ज की है, लेकिन पिछले चुनाव के मुकाबले सीटें कम हुई हैं. साल 2013 के चुनाव मुकाबले कांग्रेस को 12 सीटों का फायदा हुआ है तो वहीं बीजेपी को 14 सीटों का नुकसान हुआ है. याद रहे कि 2013 में हुए चुनाव में बीजेपी का 60 नगर पालिकाओं का कब्जा था तो कांग्रेस के खाते में छह सीटेें आई थीं. 2013 में हुए नगर निगम के 529 वार्डों की कुल 1905 सीटों में से बीजेपी ने 1144, कांग्रेस ने 449, एनसीपी ने 16, बीएसपी ने 13, समाजवादी पार्टी ने 2, निर्दलियों ने 272 और अन्य के खाते में नौं सीटें गई थीं. आपको बता दें कि 75 नगरपालिका की सीटों पर 17 फरवरी को चुनाव हुए थे. इसके साथ ही 75 नगपालिका की 529 वार्डों की कुल 2116 सीटों पर भी चुनाव हुआ था. इसमें 6033 प्रत्याशी मैदान में थे. इसमें करीब 65 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया था.
loading…
Loading…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *