बहुचर्चित IAS अधिकारी बी. चंद्रकला के लखनऊ में योजना भवन के पास स्थित सफायर अपार्टमेंट के फ्लैट 101 सहित दिल्ली, नोएडा, कानपुर, हमीरपुर, जालौन, शामली, कौशाम्बी, फतेहपुर, सहारनपुर, सिद्धार्थनगर, देवरिया सहित कुल 14 स्थानों पर खनन से जुड़े घोटाले में CBI ने छापेमारी की. ये हमीरपुर, बुलंदशहर, मथुरा, मेरठ और बिजनौर में DM रह चुकी हैं. बताया जाता है कि ये छापेमारी खनन से जुड़े घोटाले की जांच के लिए हुई है. CBI टीम के 11 सदस्य आज सुबह विधानसभा एनेक्सी के पास सफायर अपार्टमेंट में उनके घर पहुंचे और क़रीब दो घंटे जांच की. उनके घर से कुछ कागज़, एक लॉकर, 2 अकाउंट और दो घर की जानकारी मिली. उत्तर-प्रदेश में हुए खनन घोटाले की (CBI) जांच में बड़ा खुलासा हुआ है कि हमीरपुर की DM रहते हुए बी चंद्रकला ने दस अन्य लोगों के साथ मिलकर आपराधिक साजिश रचते हुए अवैध खनन करवाया. इस संदर्भ में दो जनवरी को सीबीआई ने IPC की धाराओं 379, 384, 420, 511, 120 B और भ्रष्टाचार अधिनियम के तहत 11 आरोपियों पर केस दर्ज हुआ है. इसमें सपा और बसपा के दो नेता सहित कई बाबू और दलाल शामिल हैं. शिकायतों के अनुसार 2012 से 2016 के बीच अधिकारी अवैध खनन कर रहे लोगों और अवैध बालू ले जा रहे वाहनों के ड्राईवरों से पैसे ऐंठते थे. इस घोटाले के संदर्भ में CBI पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से भी पूछताछ कर सकती है. क्योंकि वर्ष 2012 से 2013 के बीच अखिलेश यादव ने खनन महकमा अपने पास रखा था, बाद में गायत्री प्रसाद प्रजापति को खनन मंत्री बना दिया था. समाजवादी पार्टी की सरकार में फतेहपुर, देवरिया, शामली, कौशांबी, सहारनपुर, सिद्धार्थनगर, हमीरपुर जिलों में अवैध खनन को लेकर इलाहाबाद हाईकोर्ट में कई याचिकाएं पहुंचीं थीं. हाईकोर्ट ने 16 अक्टूबर 2015 को हमीरपुर में जारी किए गए सभी 60 मौरंग खनन के पट्टे अवैध घोषित करते हुए रद्द कर दिए थे. अवैध खनन को लेकर मिल रहीं शिकायतों और याचिका पर सुनवाई करते हुए हाईकोर्ट ने 28 जुलाई 2016 को जांच CBI को सौंपी थी. हमीरपुर मामले में दो जनवरी,2019 को CBI के डिप्टी एसपी केके शर्मा ने केस दर्ज कराया और इसी केस में CBI ने आईएएस बी चंद्रकला के लखनऊ स्थित फ्लैट सहित 14 स्थानों पर छापेमारी की है. UP सरकार की ओर से 31 मई 2012 को एक ऑर्डर जारी हुआ, जिसमें कहा गया था कि जो भी माइनिंग होगी, वो ई टेंडर से होगी, लेकिन यह नियम फॉलो नहीं किया गया. आरोप है कि 2012 में बी. चंद्रकला ने सपा नेताओं को नियमों की अनदेखी कर खनन के 60 पट्टे जारी किए. दो जनवरी को हमीरपुर खनन मामले में दर्ज FIR में CBI ने अवैध तरीके से खनन के पट्टे आवंटित करने के लिए बी चंद्रकला को आरोपी नंबर वन बनाया है. दिल्ली और लखनऊ में आलिशान मकान के मालिक आरोपी आदिल खान नंबर दो हैं, जिन्हें गायत्री प्रजापति के चलते खनन की लीज मिली. तीसरे आरोपी हमीरपुर के मोइनुद्दीन हैं, छापेमारी में इनके घर से 12.5 लाख कैश, 1.8 किलो सोना मिला है. चौथे आरोपी समाजवादी पार्टी के MLC रमेश मिश्रा के भाई दिनेश कुमार मिश्रा, पांचवा आरोपी हमीरपुर का माइनिंग क्लर्क राम आसरे प्रजापति, छठा आरोपी अंबिका है जो रमेश मिश्रा का काम देखता था. सातवाँ आरोपी संजय दीक्षित है, जो 2017 में बसपा के टिकट पर चुनाव लड़ा था. संजय के पिता सत्यदेव दीक्षित के घर भी छापेमारी हुई है. जालौन के माइनिंग क्लर्क राम अवतार के घर से दो करोड़ कैश और दो करोड़ रूपये का सोना मिला है. रामअवतार के करीबी करन सिंह के घर भी छापेमारी हुयी. यूपी के बुलंदशहर की DM बी चंद्रकला के साथ सेल्फी लेना 18 साल के सिराज को 2016 में काफी महंगा पड़ा था और उसे जेल तक जाना पड़ा था. हालांकि बाद में मामले के काफी तूल पकड़ने और राजनैतिक कारणों से चंद्रकला ने उसे माफ़ करने का एलान किया था. इस घटना पर सिराज के पिता इमरान का कहना था कि हमारे लिए यही काफी है कि वह रिहा हो जाये, घर पर वापस आ जाए बस, इससे ज्यादा हम कुछ नहीं कह सकते हैं. बी चंद्रकला के पिता – बी. किशन रामागुंडम स्थित फ़र्टिलाइज़र कॉर्पोरेशन ऑफ़ इंडिया में वरिष्ठ टेक्नीशियन पद से सेवानिवृत्त हैं, माँ बी. लक्ष्मी एक अच्छी उद्यमी हैं, बड़े भाई बी. रघुवीर डीएलआरएल संगठन में तकनीकी अधिकारी के रूप में तथा छोटे भाई बी. महावीर स्टेट बैंक रामागुंडम, करीमनगर में पदाधिकारी हैं, बहन बी. मीना सौंदर्य उद्योग के जगत में कार्यरत हैं और पति मि० रुमुलू श्री रामसागर प्रोजेक्ट में डिप्टी एक्सीक्यूटिव इंजीनीयर के पद पर कार्यरत हैं. बी चंद्रकला सोशल मीडिया की सनसनी रही हैं. फेसबुक पर फैंस फॉलोइंग के मामले में वो फिल्मी सितारों को मात देतीं रही हैं. अमिताभ बच्चन, शाहरुख खान, सलमान खान, दीपिका पादुकोण भी अपनी तस्वीरों, जन्मदिन और शादी से जुड़े पोस्ट पर उतने लाइक्स नहीं बटोर पाते, जितनी उन्हें महज एक तस्वीर के साथ गुड मार्निंग लिखने मात्र पर मिल जाता रहा है. उन्हें फेसबुक पर अपनी फोटो या तस्वीर की महज डीपी लगाने के कुछ देर में 2.54 या 2.45 लाख लाइक्स, 37 हजार शेयर और 14 हजार लोगों के कमेंट मिल जाते हैं. उनके आधिकारिक फेसबुक पेज पर 85 लाख फॉलोवर्स है, इतने फॉलोवर्स कई नामचीन फिल्मी सितारों के भी नहीं हैं? प्रधानमंत्री सहित दर्जनों राजनीतिज्ञों और सितारों के फेसबुक पेज को करोड़ों लोगों ने फॉलो कर रखा है, फिर भी बतौर IAS अफसर बी चंद्रकला के फॉलोवर्स और उनको मिलने वाले लाइक्स, शेयर और कमेंट चौंकाने हैं.
loading…
Loading…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *