बिहार के पूर्व सीएम व राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव को गुरुवार को आइआरसीटीसी घोटाले में जमानत मिल गई. वहीं लालू का हृदय एक मिनट में 10 से 12 बार ही धड़क रहा है. डॉक्टर डीके झा के अनुसार ये काफी खतरनाक और जानलेवा है. डॉ ने बताया कि एक मिनट में 72 बार हृदय धड़कना चाहिए. हार्ट को लेकर रिम्स के डॉक्टर बराबर एशियन हार्ट इंस्टीट्यूट से सलाह लेते रहे हैं. इंस्टीट्यूट ने पहले से ही चल रही दवा को देने को कहा. वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के बाद उनका इलाज कर रहे डॉक्टर डीके झा ने बताया कि लालू का हृदय अनियंत्रित गति से धड़क रहा है. इन दिनों लगातार लालू की तबीयत में उतार-चढ़ाव देखा जा रहा है. उनका हृदय महज से एक मिनट में 10 से 12 बार ही धड़क रहा है. वहीं, कार्डियोलॉजिस्ट डॉक्टर प्रवीण कुमार के अनुसार इस घटना को मेडिकल भाषा में वेंट्रिकुलर कमर्शियल कंपलेक्स कहते हैं. इसका पैटर्न ही बताएगा कि यह खतरनाक है या नहीं. डॉक्टर प्रवीण ने बताया कि जब लालू प्रसाद सुपर स्पेशलिटी विंग में भर्ती थे तो उस समय वाल्व की स्थिति सही थी. लालू प्रसाद यादव की आइआरसीटीसी घोटाले में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए रिम्स के पेइंग वार्ड से नई दिल्ली पटियाला हाउस कोर्ट में पेशी हुई और उन्हें कोर्ट की ओर से अग्रिम जमानत दी गई है. अगली सुनवाई 19 जनवरी को होगी. पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव से मिलने पहुंचे उनके बड़े पुत्र पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप ने मीडिया से बात करते हुए अपने छोटे भाई सह बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री को अर्जुन की संज्ञा देते हुए खुद को उनका सारथी (कृष्ण) बताया है. तेजप्रताप ने कहा कि वृंदावन से वे सुदर्शन चक्र लाए हैं, जिसका इस्तेमाल राजनीति में होगा. आसन्न चुनावों में जब यह चक्र चलेगा, सांप्रदायिक ताकतें नेस्तनाबूत हो जाएंगी. उन्होंने राम मंदिर के मसले पर दो टूक कहा कि भगवान एक हैं, मंदिर, मस्जिद, गिरजाघर, गुरुद्वारा सब बनना चाहिए. मंदिर भी बनना चाहिए. इस मसले पर उन्होंने भाजपा को घेरते हुए कहा कि पार्टी चार वर्षो से सो रही थी, आज चुनाव की डुगडुगी बजी तो मंदिर की याद आ गई. जनता सब देख रही है, पांच राज्यों के परिणाम में उसने ट्रेलर दिखा दिया है, अभी पूरी फिल्म बाकी है. पत्नी एश्र्वर्या राय के मामले में कुछ भी बोलने से बचते हुए कहा कि घर का मामला, घर में रहने दें. समय आने पर आप सब जान जाएंगे. महागठबंधन के सवाल पर उन्होंने कहा कि सभी धर्मनिरपेक्ष दल एक प्लेटफार्म पर हैं, दलों के वरीय नेताओं के बीच लगातार बातचीत हो रही है. बातचीत में उन्होंने गीता जयंती की याद दिलाते हुए पत्रकारों को गीता की एक-एक पुस्तक भेंट की और मुस्कुराते हुए कहा कि इसमें सभी शंकाओं का समाधान है, जरूर पढि़ए. गीता के कुछ प्रचलित श्लोक भी सुनाए और भावार्थ भी बताया. कहा वृंदावन हो आया हूं, लोग पूछते हैं द्वारिका कब जाओगे, यह बात मुझे बिल्कुल ही अजीब लगती है. कृष्ण एक हैं, उनका स्वरूप अलग-अलग, आंख बंद करोगे, वे आपके दिल में उतर आएंगे. तेजप्रताप यादव ने झारखंड में युवा राजद कार्यकर्ताओं के साथ बैठक की और गीता का उपदेश देकर उसे आत्मसात करने का संदेश दिया. इस दौरान रह-रहकर कार्यकर्ताओं की तालियां गूंजती रहीं. तेजप्रताप ने कहा कि युवाओं के बिना कोई संगठन आगे नहीं बढ़ सकता, धोती पहनकर जंग नहीं लड़ी जा सकती, हां उनके अनुभवों से सीख जरूर ली जा सकती है. कार्यकर्ताओं को आश्र्वस्त भी किया कि अब वे झारखंड का लगातार दौरा करेंगे और कार्यकर्ताओं के साथ बैठक कर संगठन को नई ऊंचाइयों तक ले जाएंगे. युवा जोश में होश न खोएं और राजद को अंतिम व्यक्ति तक पहुंचाने का बीड़ा उठाएं. पार्टी से जो भी नए-पुराने लोग जुड़ें हैं उन्हें सम्मान दीजिए. हिंदू, मुस्लिम, सिख, ईसाई, डॉक्टर, इंजीनियर समाज के हर वर्ग के लोगों को पार्टी से जोड़ने को भी कहा. लालू प्रसाद यादव का हवाला देते हुए उन्होंने कहा कि जिसने रिक्शा चालकों, गरीबों, दलितों को जमीन से उठाकर कुर्सी पर बिठाया, आज की सरकार इस तबके को रसातल पर भेजने का काम कर रही है. लालूजी को एक साजिश के तहत फंसाया गया है. राजद के नेताओं पर जितना जुल्म ढाया जाएगा, संगठन उतना मजबूत होगा. सरकार ने चार साल में क्या किया? कहां गई नौकरी, किसी के खाते में 15-15 लाख तो आए नहीं. भाजपा हर मोर्चे पर विफल है. उन्होंने कहा कि । प्रदेश युवा राजद अध्यक्ष अभय सिंह, प्रवक्ता शैलेंद्र शर्मा, रंजन कुमार, इस्लाम, संजय यादव, विश्र्वना कुमार, धर्मेंद्र सिंह, धनंजय यादव आदि बैठक में मौजूद थे.
loading…
Loading…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *