शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने शनिवार को अयोध्या में कहा कि हमें मंदिर बनाने की तारीख चाहिए, बाकी बातें बाद में होती रहेंगी. ठाकरे ने कहा कि सब मिलकर मंदिर बनाएंगे तो जल्द पूरा हो जाएगा, यही नहीं यदि कोई मंदिर बना सकता है तो वह श्रेय भी ले सकता है. मैं यहां चार साल से सो रहे कुम्भकरण को जगाने आया हूँ. ठाकरे ने कहा कि बीते साढ़े चार साल से भाजपा राम मंदिर के मुद्दे पर सोयी रही. अटल जी की मिलीजुली सरकार थी. उस वक्त मंदिर का मुद्दा उठाना शायद कठिन हो सकता था, लेकिन आज की सरकार ताकतवर सरकार है. केंद्र और राज्य दोनों में भाजपा की ही सरकारें हैं. भाजपा राम मंदिर पर बिल या अध्यादेश लाये हमारी पार्टी इसका समर्थन करेगी. उद्धव ठाकरे पहली बार अयोध्या आए हैं, उनके साथ पत्नी रश्मि और बेटा आदित्य के कार्यक्रम स्थल पर पहुंचे. मंच पर पूजा बाद संतों से उद्धव ठाकरे ने आशीर्वाद भी लिया. इससे पहले उद्धव ने 108 ब्राह्मणों के साथ परिवार सहित गौरी-गणेश की पूजा की. मंदिर न्यास अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास भी शिवसेना के कार्यक्रम में पहुंच उद्धव ठाकरे को आशीर्वाद देते हुए कहा कि आप जल्दी राम मंदिर का निर्माण कराइए. मंदिर जल्द बने, यही सबकी अभिलाषा है. उद्धव ठाकरे लक्ष्मण किले में संतों से मुलाकात करने के बाद शाम को सरयू आरती में शामिल होंगे और रविवार को सुबह रामलला के दर्शन करने के बाद लक्ष्मण किला में पत्रकारों से वार्ता करेंगें. अयोध्या में कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए बड़े पैमाने पर सुरक्षा के इंतजाम किए गए हैं. अयोध्या और फैजाबाद में धारा 144 लागू कर डीजीपी और डीआईजी स्तर के एक- एक अधिकारी, एसपी स्तर के तीन, एएसपी स्तर के 10, डीएसपी स्तर के 21, इंस्पेक्टर स्तर के 160, सात सौ कॉन्सेटबल के साथ पीएसी की 42 और आरएएफ की पांच कम्पनियों के अलावे एटीएस कंमाडो के साथ साथ ड्रोन कैमरों की तैनाती भी की गयी है. हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए Pileekhabar के Facebook पेज को लाइक करें
loading...
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *