कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री सीपी जोशी ने बुधवार को कहा कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद कांग्रेस अयोध्या में भगवान राम का भव्य मंदिर बनवाएगी। जोशी ने राजस्थान के नाथद्वारा में पत्रकारों से बातचीत में कहा, ‘भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) चुनावी मौसम में राम मंदिर का मुद्दा उठाकर लोगों को भ्रमित कर रही है। इस मामले में सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने के बाद कांग्रेस भव्य मंदिर बनाएगी।’ सीपी जोशी ने आरोप लगाया कि बीजेपी चुनाव के दौरान लोगों को लगातार भ्रमित करने का कोई मौका नहीं चूक रही, जबकि तथ्य यह है कि यह मामला बीते चालीस साल से अदालत में लंबित है। इससे पहले बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने जयपुर में कहा कि भारतीय जनता पार्टी अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर कटिबद्ध है और अपने संकल्प से एक इंच भी पीछे नहीं हटेगी। कांग्रेस नेता सीपी जोशी ने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी अपने पूरे कार्यकाल में तथा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चार साल से अधिक समय में कुछ नहीं कर पाए। यह दीवानी मामला है और इसका फैसला उच्चतम न्यायालय करेगा। उन्होंने जमीन का मालिकाना हक स्पष्ट हुए बिना ही अध्यादेश के जरिए मंदिर निर्माण की संभावना पर सवाल उठाया। उन्होंने कहा कि बीजेपी में लोग कानून और संविधान को समझते हैं, इसलिए यह उनकी जिम्मेदारी है कि वे लोगों की भावनाओं का दोहन नहीं करें। जोशी ने कहा, ‘यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि बीजेपी देश के लोगों को भ्रमित कर वोट लेना चाहती है।’ इससे पहले बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष शाह ने यहां एक कार्यक्रम में कहा कि पार्टी अयोध्या में राम मंदिर बनाने को लेकर कटिबद्ध है और वह अपने इस संकल्प से जरा सा भी पीछे नहीं हटेगी। अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर पार्टी की प्रतिबद्धता के सवाल पर शाह ने कहा, ‘अयोध्या में जहां रामलला विराजमान हैं, उसी स्थान पर भव्य राम मंदिर बने, इसके लिए भारतीय जनता पार्टी कटिबद्ध है और यह हमारा देश से वादा है। इसमें एक इंच भी वापस आने का कोई सवाल नहीं है।’ उन्होंने कहा, ‘जनवरी में अदालत में तारीख है और हमें पूरी आशा है कि राम जन्मभूमि मामले पर तेजी से सुनवाई होगी तथा फैसले के बाद वहां भव्य राम मंदिर का निर्माण होगा। बीजेपी अपने वचन से एक इंच भी पीछे नहीं जा सकती। उसी स्थान पर और डिजाइन के हिसाब से ही भव्य राम मंदिर का निर्माण करना यह भारतीय जनता पार्टी का संकल्प है, जिसे लेकर हमारे मन में कोई संशय नहीं है।’
loading…
Loading…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *