ऑल इंडिया इमाम आर्गनाइजेशन के अध्यक्ष डॉ उमैर अहमद इलियासी ने योग को धर्म से नहीं, स्वास्थ्य से जोड़ने पर बल देते हुए राम मंदिर मुद्दे पर कहा कि सर्वोच्च न्यायालय का सुझाव सराहनीय है, इसके लिए पहल की जानी चाहिए। उन्होंने गाय को राष्ट्रीय पशु घोषित करने की वकालत करते हुए तीन तलाक को गलत बताया। साथ ही कहा कि पाक का जिस तरह का रवैया है, उसे बर्दाश्त नहीं किया जा सकता। पाक को मिटाने के लिए देश के 25 करोड़ मुसलमान ही काफी हैं। अपनी सौहार्द यात्रा के क्रम में इलाहाबाद पहुंचने पर विभिन्न धर्म गुरुओं से मुलाकात के बाद डॉ इलियासी ने सर्वधर्म सद्भाव पर जोर दिया। इलियासी खुसरो बाग में आयोजित योग शिविर में पहुंच वहाँ मुस्लिम महिलाओं को योग करते देख उनकी सराहना करते हुए कहा कि योग को धर्म से नहीं, वरन स्वास्थ्य से जोड़ कर देखना चाहिए। सोसायटी फॉर एजुकेशन वेलफेयर अवेयरनेस (सेवा) के सचिव योग गुरु डॉ. मुंतजिर रिजवी की सराहना करते हुए कहा कि उन्होंने सद्भाव का ऐसा मंजर पहले नहीं देखा है। डॉ इलियासी बाद में बंधवा स्थित बड़े हनुमान मंदिर गये और यहां अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि से मुलाकात के दौरान उन्होंने मंदिर में आरती करने की इच्छा जताई। आरती करने के बाद इलियासी अंदावा स्थित ऋषभ देव तपस्थली गये। यहां उन्होंने विमल जैन से भेंट की। डॉ इलियासी ने डायोसिस ऑफ लखनऊ के बिशप पीटर बलदेव, गुरुद्वारा खुल्दाबाद में गुरु सिंह सभा के अध्यक्ष सरदार जोगेंद्र सिंह, रोशन बाग स्थित बड़ी मीनार मस्जिद और चौक स्थित जामामस्जिद के कारी मकबूल से भी मिले। बाद में वे मदरसा सैयद सरांवा स्थित मदरसा पहुंचे और अबू मियां से मुलाकात की। डॉ. इलियासी ने भारतीयता की मजबूती के लिए धर्म गुरुओं की कमेटी बनाने की बात कही। उन्होंने कहा कि वे लोकेश मुनि, श्रीश्री रविशंकर, जूना अखाड़े के आचार्य महामंडलेश्वर अवधेशानंद के साथ मिलकर इस दिशा में कार्य कर रहे हैं। सर्वधर्म गुरुओं की कमेटी बनने से देश में आपसी भाईचारा मजबूत होगा। डॉ इलियासी ने कश्मीर में सैनिकों पर पत्थर मारने की घटनाओं को दुखद बताते हुए कहा कि जिन बच्चों के हाथों में पत्थर पकड़ाए गए हैं, उन हाथों में कलम होनी चाहिए। उन्होंने दो टूक कहा कि अलगाववादी पाकिस्तान चले जाएं। देश में रहकर अलगाववाद न फैलाएं। पाक का जिस तरह का रवैया है, उसे बर्दाश्त नहीं किया जा सकता। देश के 25 करोड़ मुसलमान ही पाक को मिटाने के लिए काफी हैं। डॉ इलियासी तीन तलाक के मसले पर स्पष्ट कहा कि तलाक के नाम पर औरतों के साथ अन्याय हो रहा है। सरकार ने पहल की है, हमें भी सोचना चाहिए। इसके लिए जुलाई के पहले सप्ताह में इमामों की बैठक बुलाई है। जिसमें इस बाबत निर्णय लिया जाएगा। डॉ इलियासी ने राम मंदिर मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट के निर्देश की सराहना करते हुए कहा कि मामले को हल करने के लिए दोनों पक्षों के धर्मगुरुओं को आपस में चर्चा करनी चाहिए। डॉ. इलियासी ने गाय को राष्ट्रीय पशु घोषित किए जाने और गोहत्या पर कड़े कानून बनाने की वकालत करते हुए कहा कि स्लाटर हाउस बंद होने से बेरोजगार लोगों की मदद भी की जानी चाहिए। अजान मसले पर बोलते हुए कहा कि अजान ईश्वर की तारीफ के लिए है। इससे अनजान लोग ही इसकी मुखालफत करते हैं।
loading…
Loading…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *