भारत के फिरकी गेंदबाज रविचंद्रन अश्विन को आईसीसी क्रिकेटर ऑफ द ईयर और आईसीसी टेस्ट क्रिकेटर ऑफ द ईयर -2016 का अवॉर्ड दिया गया. उन्हें पूर्व भारतीय कप्तान कपिल देव और सुनील गावस्कर के हाथों दोनों ट्रॉफी मिली. भारत के फिरकी गेंदबाज रविचंद्रन अश्विन को आईसीसी क्रिकेटर ऑफ द ईयर और आईसीसी टेस्ट क्रिकेटर ऑफ द ईयर -2016 का अवॉर्ड दिया गया. उन्हें पूर्व भारतीय कप्तान कपिल देव और सुनील गावस्कर के हाथों दोनों ट्रॉफी मिली. चेन्नई के 30 वर्षीय गेंदबाज अश्विन ने 2015 का समापन टेस्ट रैंकिंग में सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज के तौर पर रहते हुए किया था. इसके बाद 2016 में दो बार उन्होंने इस रैंकिंग में शीर्ष स्थान हासिल किया था. इस अवसर पर अश्विन ने कहा, “दो शीर्ष पुरस्कारों के लिए आईसीसी द्वारा मेरे नाम का चयन किया जाना गर्व की बात है. चेन्नई के 30 वर्षीय गेंदबाज अश्विन ने 2015 का समापन टेस्ट रैंकिंग में सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज के तौर पर रहते हुए किया था. इसके बाद 2016 में दो बार उन्होंने इस रैंकिंग में शीर्ष स्थान हासिल किया था. इस अवसर पर अश्विन ने कहा, “दो शीर्ष पुरस्कारों के लिए आईसीसी द्वारा मेरे नाम का चयन किया जाना गर्व की बात है. अश्विन ने कहा, “मैं अपनी टीम के सभी साथियों का, टीम प्रबंधन का और समर्थक स्टॉफ का शुक्रगुजार हूं। मैं इस फार्म को जारी रखना चाहता हूं, ताकि टीम के लिए भविष्य में और भी मैच जीत सकूं।” इस मौके पर आईसीसी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी डेविड रिचर्डसन ने कहा, “अश्विन ने एक बार फिर साबित किया है कि वह सही मायने में विजेता हैं। मैं उन्हें आईसीसी के दो शीर्ष पुरस्कारों को जीतने के लिए बधाई देता हूं।” कपिल ने कहा, “आईसीसी के दो महत्वपूर्ण पुरस्कार जीतने पर अश्विन को बधाई। उन्होने एक बार फिर टेस्ट मैचों में अपना शानदार प्रदर्शन दिया है। उन्होंने कई सप्ताहों तक स्वयं को आईसीसी टेस्ट गेंदबाजों की रैंकिंग में शीर्ष पर रखा है।” गावस्कर ने कहा, “भारत ने हमेशा से ही कई शानदार स्पिन गेंदबाज दिए हैं। अश्विन और रवींद्र जडेजा वर्तमान के ऐसे ही स्पिन गेंदबाज हैं जिन्होंने भारत की इस विरासत को संभाला है। विभिन्न प्रारूपों में स्वयं की फार्म को बनाए रखना स्पिन गेंदबाजों के लिए कभी भी आसान नहीं रहा है। अश्विन ने खासकर विभिन्न प्रारूपों में बेहतरीन सामंजस्य बनाया है और सभी प्रारूपों में विकेट लिए हैं।”

 1 Views

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *