परमाणु शक्ति होने के बावजूद पाकिस्तान के पास अभी तक कोई भी इंटर कॉन्टिनेंटल मिसाइल नहीं है। बड़े युद्ध की स्थिति में ऐसी मिसाइल की सिर्फ मौजूदगी ही दुश्मन की हालत खराब कर सकती है। भारत में पूरी तरह विकसित की गई अग्नि 5 मिसाइल कुछ ऐसी ही है। न सिर्फ पाकिस्तान और चीन, इसकी जद में पूरा यूरोप भी है। इस मिसाइल सिस्टम के बारे में कुछ अहम बातें- – अग्नि 5 मिसाइल 5000 किलोमीटर से अधिक दूरी तक के लक्ष्य को भेदने में सक्षम है। यह एक टन से अधिक वजन के परमाणु आयुध को ढोने में सक्षम है. यानी इससे न केवल पाकिस्तान या चीन बल्कि यूरोप तक निशाना लगाया जा सकता है। – अग्नि श्रृंखला की अन्य मिसाइलों के विपरीत ‘अग्नि-5’ सर्वाधिक आधुनिक मिसाइल है। नैविगेशन और मार्गदर्शन के मामले में इसमें कुछ नई प्रौद्योगिकियों को शामिल किया गया है। – अग्नि 5 मिसाइल 17 मीटर लंबा, दो मीटर चौड़ा है और इसका प्रक्षेपण भार तकरीबन 50 टन है। यह फायर एंड फॉरेगट सिस्टम पर काम करता है। इसके पथ को पकड़ पाना मुश्किल है। – लंबी दूरी तक मार करने में सक्षम मिसाइल का यह चौथा विकासात्मक और दूसरा कैनिस्टराइज्ड परीक्षण होगा। पहला परीक्षण 19 अप्रैल 2012 को किया गया था, जबकि दूसरा परीक्षण 15 सितंबर 2013, तीसरा परीक्षण 31 दिसंबर 2015 को इसे ठिकाने से किया गया था। – भारत के पास फिलहाल अग्नि 1, अग्नि 2, अग्नि 3, अग्नि 4 मिसाइल सिस्टम हैं और ब्रह्मोस जैसी सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल भी हैं। – अग्नि 1 की रेंज 700 किलोमीटर, अग्नि 2 2000 किलोमीटर रेंज, अग्नि 3 और अग्नि 4 की रेंज 2500 किलोमीटर से 3500 किलोमीटर तक है। – बताया जा रहा है कि भारत अग्नि 6 मिसाइल भी विकसित कर रहा है। पनडुब्बी से छोड़े जाने में सक्षम इस मिसाइल की रेंज 8 से 10 हजार किलोमीटर हो सकती है। – 5000 किलो मीटर की मारक क्षमता की मिसाइल रखने वाला अमेरिका, रूस, चीन, फ्रांस और ब्रिटेन के बाद भारत पांचवां देश होगा।

ताज़ा अपडेट पाने के लिए हमारे पेज को लाइक करें
loading…
Loading…

 10 Views

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *